Old Coins Bazaar

New Metro Line: यहां जल्द बनेगी नई मेट्रो लाइन, सिर्फ 20 मिनट में पहुंच जाएंगे नोयडा से गाजियाबाद

मेट्रो के प्रस्‍ताव के अनुसार 5.83 किलोमीटर का रूट नेशनल हाईवे 9 को क्रास करेगा. प्रस्तावित रूट पर सीआईएसएफ कैंप, डीपीएस इंदिरापुरम, रामलीला ग्राउंड, नीति खंड, ज्ञान खंड स्‍टेशन होंगे.

 | 
अब नोयडा से गाजियाबाद के लगेंगे 20 मिनट

Old Coin Bazaar, New Delhi  नोएडा से गाजियाबाद आने-जाने वाले लोगों का सफर अब आसान होने वाला है. दिल्ली मेट्रो ने नोएडा सेक्टर 62 से वैशाली मेट्रो स्टेशन के बीच मेट्रो लाइन बिछाने का प्रस्‍ताव गाजियाबाद नगर निगम को दिया है.

इस नई लाइन के बनने के बाद गाजियाबाद से नोएडा आने में 15 से 20 मिनट ही लगेंगे. गाजियाबाद से बिना दिल्ली जाए सीधे मेट्रो से नोएडा आया जा सकेगा.

मेट्रो के प्रस्‍ताव के अनुसार 5.83 किलोमीटर का रूट नेशनल हाईवे 9 को क्रास करेगा. प्रस्तावित रूट पर सीआईएसएफ कैंप, डीपीएस इंदिरापुरम, रामलीला ग्राउंड, नीति खंड, ज्ञान खंड स्‍टेशन होंगे.

नई लाइन से ब्लू लाइन पर यात्रियों के लिए गाजियाबाद और नोएडा दोनों रूट खुल जाएंगे. वर्तमान में दिल्ली से आने वाली ब्लू लाइन यमुना बैंक तक एक साथ आती है. इसके बाद एक लाइन वैशाली और दूसरी नोएडा की तरफ जाती है.

अभी गाजियाबाद से नोएडा आने के लिए ब्लू लाइन से यमुना बैंक आना पड़ता है. यहां से नोएडा वाली मेट्रो पकड़नी पड़ती है. आनंद विहार से पिंक लाइन से मयूर विहार एक्सटेंशन जाना होता है फिर यहां से ब्लू लाइन पकड़नी पड़ती है.

गाजियाबाद शहर में मेट्रो लाइन के विस्‍तार के लिए डीएमआसी ने यह तीसरा प्‍लान जीडीए का सौंपा है. इससे पहले दिए दो प्‍लान जीडीए रद्द कर चुका है.

यह होगा रूट

इस रूट के जरिए मेट्रो नोएडा इलेक्ट्रिॉनिक सिटी से शुरू होकर सीआईएसएफ, डीपीएस, रामलीला मैदान, नीतिखंड, ज्ञानखंड और रामप्रस्‍थ होते हुए वैशाली तक जाएगी.

रैपिडैक्स, मेट्रो का होगा तालमेल

जीडीए के वाइस प्रेसिडेंट और डीएम आरके सिंह का कहना है कि नई लाइन बनने से नोएडा और गाजियाबाद के बीच कनेक्टिविटी काफी बेहतर हो जाएगी. साथ ही यह यह लाइन रैपिडैक्‍स और मेट्रो का तालमेल भी कर देगी.

ए रैपिडैक्स रूट पर साहिबाबाद स्टेशन वैशाली मेट्रो स्टेशन से महज एक किलोमीटर की दूरी पर है. ऐसे में यात्री मेट्रो से नोएडा सेक्टर 62 से वैशाली मेट्रो आने के बाद साहिबाबाद से रैपिडैक्स ट्रेन पकड़ सकेंगे.

केंद्र देगा 50 फीसदी राशि

इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद दिल्ली मेट्रो डिटेल प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट (DPR) तैयार करेगा. इस प्रोजेक्ट की 50 फीसदी लागत केंद्र सरकार, 30 फीसदी राज्य सरकार और 20 फीसदी लागत जीडीए, यूपी स्टेट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी, हाउसिंग बोर्ड जैसी एजेंसियां वहन करेंगी.

इस रूट में चार स्टेशन चिह्नित किए गए हैं. पहला स्टेशन वैभव खंड, दूसरा डीपीएस इंदिरापुरम, तीसरा स्टेशन नीति खंड और चौथा स्टेशन ज्ञानखंड होगा.